• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2018 |

सागर जिले की रहली जनपद पंचायत की ग्राम पंचायतों में अल्पविराम कार्यक्रम

प्रेषक का नाम :- RAS
स्‍थल :- Bhopal
09 Aug, 2018

राज्य आनंद संस्थान के दो दल 15- 15 ग्राम पंचायतों में यह कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं। रहली के आसपास की ग्राम पंचायत पटना बुजुर्ग एवं रमखिरिया में तथा गढ़ाकोटा के आसपास की ग्राम पंचायत परासिया एवं चनौआ बुजुर्ग में अब तक हुए कार्यक्रम के सकारात्मक और उत्साहवर्धक परिणाम हैं। यह यात्रा दिनोंदिन मजबूत होती जा रही है, और लोगों का इस कार्यक्रम के प्रति आकर्षण बढ़ रहा है। 

चनौआ बुजुर्ग के हायर सेकेंडरी स्कूल में कक्षा 11 एवं कक्षा 12वीं की छात्र छात्राओं के बीच यह कार्यक्रम रोमांचकारी रहा, कार्यक्रम की सफलता का आकलन हम उपस्थित लोगों द्वारा अपने खुद के बारे में व्यक्त किए जाने वाले विचारों के आधार पर कर रहे हैं,  छात्र-छात्राओं ने भी बताया उन्हें अपने जीवन में क्या ठीक करना है।

सागर जिले की रहली ग्राम पंचायत के संजरा ग्राम में अल्पविराम कार्यक्रम बड़ा ही जबरदस्त रहा, मंगलवार 31 जुलाई 2018 को रात 8:00 बजे कार्यक्रम संपन्न हो जाने पर बुजुर्गो ने हमारे सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया, तो किसी ने अपने घर ले जाकर हम सब को भोजन कराए, समीप की झूड़ा ग्राम पंचायत के सरपंच श्री रामकुमार लोधी हमें एक दिन पहले ही झूड़ा ले गए और वहां देर रात तक भजन संध्या में हम सब सम्मिलित हुए, विशाल पीपल वृक्ष के नीचे श्री राम जानकी मंदिर के प्रांगण में हरदी के सहायक अध्यापक श्री मुकेश जैन द्वारा अत्यंत भाव और मधुरता के साथ गाय गए भजनों ने देर रात तक सबको आनंदित किया।

लोगों ने नशाखोरी, क्रोध, जलन, सेवा भाव में कमी को सार्वजनिक रूप से स्वीकार किया उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से हमें खुद में झांकने का संभवत: पहला अवसर मिला है, ग्राम पंचायत परासिया में नवयुवक जसवंत कुर्मी ने चिंता का दायरा और प्रभाव का दायरा देखने के बाद कहा कि वह अब तक दूसरों को जिम्मेदार ठहराता था, पर आज से उसने तय किया है कि वह स्वयं स्वच्छता का कार्य करेगा, उसके संकल्प को सभी ने पुरजोर समर्थन दिया और कार्यक्रम की समाप्ति के बाद उपस्थित जन समूह ने पूरे ग्राम पंचायत परिषर को आनन फानन में साफ कर दिया।

एक छात्रा ने कहा कि वह खुद मेहनत करने, पढ़ने की जगह दूसरी छात्राओं से जलन भाव रखती थी पर अब वह खुद मेहनत करके सफलता हासिल करेगी संस्था के प्राचार्य श्री आर के गुप्ता ने कहा कि उन्हें नहीं पता था कि कोई इतना प्रेरणादाई कार्यक्रम भी हो सकता है इस कार्यक्रम से उनके स्कूल का परीक्षा परिणाम सुधरेगा।


फोटो :-