आनंद उत्‍सव 2020 फोटो एवं वीडियो प्रतियोगिता परिणाम       • ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

अल्पविराम में स्वास्थ्य कर्मचारी ने कहा शायद आज में जल्दी घर पहुच जाता तो उतनी खुशी नहीं होती जितनी मुझे उस जरूरतमंद की मदद से मिली है।

प्रेषक का नाम :- Vijay mewada(Aanandam Sahyogi), mr arvind sharma coordinator INDORE
स्‍थल :- Indore
17 May, 2018

 आनंदम अल्पविराम प्रशिक्षण का आयोजन प्रकृति के सानिध्य में कमला नेहरू पार्क इंदौर में आयोजित किया गया।जिसमे स्वास्थ्य विभाग इंदौर के ANM,MPW ओर बहुउद्देश्यीय कर्मचारियों ने सहभागिता की जिसमे आत्मपोषण के माध्यम से प्रकृति द्वारा प्रदत्त अनमोल उपहारों को चिन्हीत किया है।अनंदम सहयोगी विजय मेवाड़ा द्वारा सभी को 10 मिनिट का अल्पविराम देकर कहा गया कि उनके जीवन की ऐसी घटना जिसमे उनके द्वारा किसी की मदद हुई हो और उन्हें आत्मीय खुशी मिली हो उसे स्मरण करें और शेयर करें, राजेश शर्मा, रविश वाजपेई, देवेन्द्र रघुवंशी ने अपने अनुभव शेयर किए। रघुवंशी ने कल रात की घटना बताते हुए कहा कल मेरी ड्यूटी का समय खत्म हो चुका था, में घर जाने को था उसी समय एक गर्भवती महिला जिसका प्रसव समय आ चुका था, निजी डॉक्टर द्वारा ऑपरेशन सहित डिलेवरी का खर्च 30000 रु बताया था ।गरीब दंपत्ति मेरे पास आये मैने जननी सुरक्षा वेन से उन्हें एम व्हाय पहुँचाया एवम उनके सहयोग एवम सहायता हेतु रुका रात एक बजे महिला ने पुत्री को जन्म दिया ।उनका निशुल्क उपचार हुआ।दंपत्ति द्वारा हाथ जोड़ ढेरों दुवाएँ दी मन को अद्भुत प्रसन्नता हुई।शायद में जल्दी घर पहुच जाता तो उतनी खुशी नहीं होती जितनी मुझे उस जरूरतमंद की मदद से मिली है।


फोटो :-