• आनंद उत्सव 2019 फोटो/वीडियो प्रतियोगिता के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें

आनन्दमय जीवन जीने के लिये ग्वालियर में आनन्द क्लबों के सदस्यों द्वारा किया जा रहा अल्पविराम का अभ्यास

प्रेषक का नाम :- शिवराज सिंह एडीएम/ डॉ सत्यप्रकाश शर्मा, आनन्दम सहयोगी
स्‍थल :- Gwalior
30 Nov, -0001

आनन्दमय जीवन जीने के लिये ग्वालियर में आनन्द क्लबों के सदस्यों द्वारा किया जा रहा अल्पविराम का अभ्यास शिवराज सिंह एडीएम/ डॉ सत्यप्रकाश शर्मा, आनन्दम सहयोगी ग्वालियर / मध्यप्रदेश देश का पहला प्रदेश है जहॉं के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह ने प्रदेश के लोगों की बाह्य सकुशलता के साथ-साथ आन्तरिक सकुशलता की चिंता की है और इसके लिये पिछले बर्ष सितम्बर माह में आनन्द विभाग का गठन किया है । राज्य आनन्द संस्थान की अभिनव पहल 'अल्पविराम', जिसके सतत अभ्यास से लोग अपने जीवन में ख़ुशियाँ ला रहें हैं । ख़ुशियाँ समाज के हर व्यक्ति तक पहुँचें इसके लिये संस्थान द्वारा प्रदेश में आनन्द क्लबों का गठन किया जा रहा है । ग्वालियर में अभी तक कुल १३ आनन्द क्लब गठित किये गये हैं जिनमें १२ पंजीकृत व १ प्रावधिक रूप से पंजीकृत हुये हैं । उक्त आनन्द क्लबों के सदस्य हर रविवार को सुबह अल्पविराम का अभ्यास करते हैं जिससे उनके जीवन में सकारात्मक परिवर्तन आ रहे हैं तथा जीवन आनन्दमय होने की ओर अग्रसर है । मदद, परोपकार आदि की भावना के विकास तथा समाज व शासकीय कार्यालयों के सफल संचालन के लिये विभिन्न बिषयों पर अल्पविराम का अभ्यास जिले के आनन्दम सहयोगी डॉ सत्यप्रकाश शर्मा द्वारा जिले के विभिन्न कार्यालयों के साथ-साथ आनन्द क्लबों के सदस्यों को भी कराया जा रहा है जिनमें शासकीय व अशासकीय दोनों लोग सम्मिलित हैं । क्लबों के सदस्यों के अल्पविराम कार्यक्रम में जिले के एडीएम व आनन्द विभाग के नोडल अधिकारी श्री शिवराज सिंह विशेष रूप से उपस्थित रहते हैं । जिले में गठित आनन्द क्लबों के सदस्य खिलौने, कपड़े, ज्ञान, समय, दीन दुखियों की सेवा, ज़रूरतमंद छात्रों को पढ़ाकर, ज़रूरतमंदों की मदद, पक्षियों को दाना-पानी देकर, पर्यावरण संरक्षण के लिये पौधारोपण व उनका संरक्षण तथा अन्य सामग्री लोगों को देकर आनन्द की अनुभूति कर रहे हैं । अल्पविराम के अभ्यास इस 'देने का आनन्द' की भावना का और अधिक विकास हो रहा है ।


फोटो :-