• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर 2018 तक बढ़ा दी गई है |

ग्वालियर में आनन्द क्लबों ने शुरु की गतिविधियाँ पौध रोपण के साथ उनका संरक्षण भी आवश्यक – अध्यक्ष राजस्व मंडल श्री मनोज गोयल

प्रेषक का नाम :- शिवराज सिंह, एडीएम / डॉ सत्यप्रकाश शर्मा, आनन्दम सहयोगी ग्वालियर
स्‍थल :- Gwalior
07 Jul, 2017

ग्वालियर में आनन्द क्लबों ने शुरु की गतिविधियाँ पौध रोपण के साथ उनका संरक्षण भी आवश्यक – अध्यक्ष राजस्व मंडल श्री मनोज गोयल शिवराज सिंह, एडीएम / डॉ सत्यप्रकाश शर्मा, आनन्दम सहयोगी ग्वालियर ग्वालियर / जिले में गठित 'ग्वालियर पर्यावरण आनन्द क्लब' ने क्लब के उद्देश्यों के तहत कार्य करना शुरु कर दिया है । ग्वालियर पर लगे देश के अधिकतम प्रदूषित शहर के दाग को मिटाने के लिये ५ जुलाई बुधवार को कलेक्टरेट पहाड़ी पर आनन्द क्लब व जिला प्रशासन की पहल पर वृहद वृक्षारोपण किया गया । यह कार्यक्रम मध्यप्रदेश राजस्व मण्डल के अध्यक्ष और भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी श्री मनोज गोयल के मुख्य आतिथ्य में कलेक्ट्रेट में परिसर किया गया। जिसमें ग्वालियर में पदस्थ सभी प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों तथा आनन्द क्लब के आनन्दकों द्वारा 300 से अधिक पौधे रोपित किए गए। ग़ौरतलब है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट में ग्वालियर को देश का सर्वाधिक प्रदूषित शहर बताया है इस कलंक को मिटाने और शहरवासियों को आनन्दित जीवन जीने का माहौल वनाने के लिये आनन्द क्लब 'पर्यावरण सुधार क्लब' ने पौधारोपण व पर्यावरण के प्रति शहरवासियों को जागरुक करने का अभियान छेड़ा हुआ है । ​इस अवसर पर संभाग आयुक्त श्री एस एन रूपला, राजस्व मण्डल के सदस्य श्री सुहैल अली, आबकारी आयुक्त श्री अरूण कोचर, पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर श्री अनिल कुमार, अपर आयुक्त राजस्व श्री डी डी अग्रवाल, अपर आयुक्त परिवहन श्री आर के जैन, कलेक्टर श्री राहुल जैन, पुलिस अधीक्षक डॉ. आशीष, सचिव राजस्व मण्डल श्री अरूण तोमर, अपर आयुक्त आबकारी श्री अशोक कुमार, आयुक्त नगर निगम श्री विनोद शर्मा, एडीएम एवं आनन्द विभाग के नोडल अधिकारी श्री शिवराज सिंह, सीईओ जिला पंचायत श्री नीरज कुमार सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती रूचिका चौहान, जीडीए के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सुरेश कुमार, मुख्य वन संरक्षक श्री विक्रम सिंह, आनन्दम सहयोगी डॉ सत्यप्रकाश शर्मा सहित जिले के अन्य सभी प्रशासनिक व राजस्व अधिकारी-कर्मचारी और आनंदम कार्यक्रम से जुड़े आनंदक उपस्थित थे। ​इस अवसर पर श्री गोयल ने कहा कि पौध रोपण के साथ-साथ उनके संरक्षण पर भी विशेष ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कलेक्ट्रेट परिसर को हरा-भरा बनाने के लिये तथा कलेक्ट्रेट में आने वाले आम लोगों की सुविधाओं के लिये किए गए प्रयासों की सराहना की और वृक्षारोपण में सक्रिय भागीदारी के लिये आनंदकों की टीम को शुभकामनायें दीं। ​संभाग आयुक्त श्री रूपला ने कहा कि पर्यावरण में वृक्षों के महत्व को अब और अधिक परिभाषित करने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि समाज का हर व्यक्ति वृक्षों की उपयोगिता और उनके महत्व को गंभीरता से समझता है। उन्होंने वृक्षारोपण के साथ-साथ वृक्षों के संरक्षण किए जाने पर विशेष जोर दिया। ​कलेक्टर श्री राहुल जैन ने बताया कि ग्वालियर जिले में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की पहल पर 2 जुलाई से हरियाली महोत्सव प्रारंभ किया जा चुका है। इसके तहत इस दिन प्रतीक स्वरूप 200 पौधों का रोपण भी इसी कलेक्ट्रेट पहाड़ी पर आनन्दकों के क्लब द्वारा किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर जिले में मानसून के आगमन के साथ ही यह अभियान शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी के साथ संचालित किया जायेगा। जिला प्रशासन व आनन्द विभाग ने इस वर्ष साढ़े 8 लाख पौधे रोपित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने इस कार्य में स्वयंसेवी संगठनों और स्व-सहायता समूहों को भागीदार बनाने के लिये की गई पहल के बारे में भी बतलाया। ​इससे पूर्व एडीएम व आनन्द विभाग के नोडल अधिकारी श्री शिवराज सिह ने वृक्षारोपण कार्यक्रम और जिले में आनंद विभाग की गतिविधियों के बारे में संक्षिप्त में जानकारी प्रदान की। कार्यक्रम का संचालन आनंदम सहयोगी डॉ. सत्यप्रकाश शर्मा ने किया। जिले में अभी तक ३ क्लबों का गठन किया जा चुका है और कई प्रक्रियाधीन हैं । पहला क्लब 'ग्वालियर पर्यावरण सुधार आनन्द क्लब', दूसरा 'मानवता क्लब' और तीसरा 'केयर एण्ड अवेयर क्लब' तीनों ने कार्य प्रारम्भ कर दिया है ।


फोटो :-

         

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1
Document - 2
Document - 3