List of Eligible Candidates from previous recruitment advertisement        List of Non-Eligible Candidates from previous recruitment advertisement       • ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

Indore-विश्व पर्यावरण दिवस वृक्षारोपण,संरक्षण जागरूकता हेतु कहीं लोकगीत गाए, तो कहीं वृक्षों को रक्षासूत्र बांध रक्षा का लिया संकल्प।

प्रेषक का नाम :- विजय मेवाड़ा कार्यक्रम समन्वयक अरविंद शर्मा समन्वयक इंदौर
स्‍थल :- Indore
15 Jun, 2020

5 जून अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में राज्य आनंद संस्थान भोपाल के निर्देश पर राज्य आनंद संस्थान जिला इंदौर द्वारा ऑनलाइन प्रतियोगिताओं के माध्यम से जिले के नागरिकों एवं आनंदकों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति कर्तव्य बोध एवं टाइम फॉर नेचर अर्थात अपने दैनिक जीवन से कुछ समय प्रकृति की रक्षा हेतु समर्पित करने हेतु प्रेरित करने के उद्देश्य से ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित किये गये। हम सब भली भांति जानते हैं कि हमारे क्रियाकलापों से पर्यावरण को भारी क्षति पहुंच रही है और यह भी हमारा ही दायित्व है कि हम पर्यावरण को बचाने एवं उसमें सुधार लाने में अपनी अपनी भूमिका तय करें इसी क्रम में पर्यावरणीय सुरक्षा का महत्वबोध कराने का संदेश जन-जन तक पहुंचाने हेतु क्षेत्रीय बोली एवं भाषा में वृक्षों की उपयोगिता एवं पर्यावरणीय महत्व बताते हुए 1लोकगीत गायन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें अनेक प्रविष्टियां वीडियो ऑडियो के रूप प्राप्त हुई जिसमें मालवी लोकगीत की श्रेष्ठ रचनाओं के माध्यम से क्रमशः सुश्री हेमलता शर्मा (भोली बेन) एवं श्री मधुसूदन त्रिवेदी श्री भीम सिंह पंवार द्वारा वृक्षारोपण करने एवं वृक्षों की महत्ता बताते लोकगीतों को एक सकारात्मक संदेश के साथ प्रसारित किया। 2वृक्षों की रक्षा हेतु प्रेरित करने के उद्देश्य से वृक्षों को रक्षा सूत्र बंधन -इंदौर के वरिष्ठ आनंदकों द्वारा अपनी आगामी पीढ़ियों अपने बच्चों नाती पोतों को वृक्षारोपण के महत्व बताते हुए पेड़ों को अपने घर के आंगन में स्थान देकर अपने परिवार के सदस्य की तरह ही रक्षित पोषित करने कर संकल्प के साथ रक्षा सूत्र बंधवा कर पेड़ पौधों की रक्षा का संकल्प रमेश सिंह मेवाड़ा रचना छापेकर मीनाक्षी मिश्रा नीना पांडे हेमलता सक्सेना ने दिलाया। 3 एक आनंदक घर एक पौधा(वृक्षारोपण) अभियान अंतर्गत आनंदको ने एक पौधा अपने घर अभियान के तहत 300 पौधों का रोपण अपने घर आंगन में किया श्री दिनेश चौधरी ने बिसनावदा में 50 पौधे रोपे गए।ज्योति पांडे विवेक तिवारी अमोघ तिवारी तृप्ति तिवारी नीना पांडे, सहित अनेक आनंदकों ने वृक्षारोपण किया।4निबंध लेखन- निबंध भाषण प्रतियोगिता में श्रेष्ठ प्रदर्शन हर्षिल छापेकर का रहा।5पोस्टर/स्लोगन लेखन- स्लोगन प्रतियोगिता विवेक तिवारी तृप्ति तिवारी एवं पोस्टर प्रतियोगिता में मीनाक्षी मिश्रा श्रेष्ठ प्रविष्टियां रही।6चित्रकला प्रतियोगिता में माही शर्मा एवं अभय शर्मा द्वारा बीजों को क्रमबद्ध कर फर्श पर पेड़ बचाने और पेड़ लगाने का संदेश देती आकृतियां फर्श पर उकेरी। जिले के आनंदको ने अपने अपने घर एक-एक पौधा लगा एवं उसकी रक्षा के संकल्प के साथ पर्यावरण सुरक्षा में अपनी भूमिका सुनिश्चित की इस प्रकार लगभग 300 पौधे लगाए। पर्यावरण संरक्षण जैव विविधता प्राकृतिक संसाधनों का सीमित उपयोग आदि को केंद्रित कर ऑनलाइन गतिविधियां भी आयोजित की गई जिसमें पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते ऑनलाइन काव्य पाठ में सुश्री हेमलता शर्मा श्री मधुसूदन त्रिवेदी श्री भीम सिंह पवार आदि ने मालवीय भाषा मैं अपना काव्य पर्यावरणीय रक्षा के संदेश के साथ प्रस्तुत किये। नन्हे-मुन्ने बच्चों ने वृक्षों की हमारे जीवन में महत्व को बताते हुए वृक्षों का जन्म दिवस मनाया कार्यक्रम समन्वयक विजय मेवाड़ा आनंदको से अनुरोध किया है चूंकि स्वच्छ वातावरण एक शांतिपूर्ण आनंददायी और स्वस्थ जीवन जीने के लिए बहुत आवश्यक है।ये हरे-भरे पेड़-पौधे हमारे जीवन का अभिन्न अंग हैं। अतः प्रकृति के बिना मानव जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती है अपने घर आंगन में एक पौधा अवश्य लगाये और इस प्रकृति को खुबसूरत बनाने में अपना सहयोग दे।ऑनलाइन आयोजन में समन्वयक अरविंद शर्मा के निर्देशन किया गया। आनंदम सहयोगी निर्लेष तिवारी रचना छापेकर मीनाक्षी मिश्रा, विवेक तिवारी,दिनेश चौधरी का विशेष सहयोग रहा। जिसमें बच्चे युवा एवम बुजुर्ग सभी लोगों ने सहभगिता की . इंदौर जिले के अतिरिक्त देवास विदिशा मंदसौर धार जिलों से भी लोगों ने सहभगिता की.


फोटो :-

         

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1


वीडियो:-

Video - 1