आनंद उत्‍सव 2020 फोटो एवं वीडियो प्रतियोगिता परिणाम        List of Eligible Candidates from previous recruitment advertisement        List of Non-Eligible Candidates from previous recruitment advertisement       • ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

इंदौर अंतर्राष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस पर स्लोगन ,पोस्टर,एवम परस्पर संवाद कार्यशाला का आयोजन

प्रेषक का नाम :- मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमति नेहा मीना, कार्यक्रम समन्वयक विजय मेवाड़ा,समन्वयक अरविंद शर्मा
स्‍थल :- Indore
18 Nov, 2019

राज्य आनंद संस्थान मध्य प्रदेश शासन के आव्हान पर आज इंदौर जिले में जिलाधीश लोकेश कुमार जाटव एवं नोडल अधिकारी सीईओ जिला पंचायत श्रीमती नेहा मीणा जी निर्देशन में अंतर्राष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस महाराजा रणजीत सिंह महाविद्यालय खंडवा रोड इंदौर के सभागार में मनाया गया कार्यक्रम का उद्देश्य महाविद्यालय बच्चों को यह बताना था किस सहिष्णुता क्षमा सद्भावना आनंदित रहने का एक घटक है वर्तमान समय में हमने सहनशीलता की बहुत कमी हो रही है और इसलिए हम अपने चारों ओर ऐसी घटनाएं देखते हैं जो समाज एवं देश और विश्व के लिए हानिकारक है यह दो सहिष्णुता के स्कोर को हम अपने जीवन में उतारे हैं तो अतिउत्साह या आवेश में आकर की गई बहुत सी अनापेक्षित घटनाओं पर विजय प्राप्त कर सकते हैं ।विद्यालय स्नातक के प्रथम वर्ष द्वितीय वर्ष एवं तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों हेतु पोस्टर एवम स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं द्वारा सहिष्णुता ,सहनशीलता जैसे सद्गुणों को अपने जीवन में उपयोगिता विषय पर लगभग 100 छात्र छात्राओं ने पोस्टर एवम स्लोगन बनाकर पोस्टरों की प्रदर्शनी लगाई जिसका अवलोकन महाविद्यालय के स्टाफ एवम सभी छात्र छात्राओं ने किया।तत्पश्चात महाविद्यालय के छात्र छात्राओं हेतु विषय पर परस्पर संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमे छात्र छात्राओं द्वारा विषय पर आधारित प्रश्न किये गए जिनका जवाब विद्यालय के प्राचार्य एवम श्री आनंद राज्य आनंद संस्थान के कार्यक्रम समन्वयक श्री विजय मेवाड़ा,सक्रिय आनंदक एवम समाजसेवी निर्लेष तिवारी जी द्वारा दिये गए।एक लड़की द्वारा प्रश्न किया गया मेरा रंग साँवला है इसलिए लोग मुझे नज़रंदाज़ करते हैं मुझे पसंद नही करते में ऐसे लोगों को कब तक सहन करूँ? इस प्रश्न का उत्तर मैंने स्वयं का उदाहरण देते हुए कुछ इस प्रकार देने का प्रयास किया-मेरा रंग भी सांवला है पर मेने मेरी कमियों से ध्यान हटाकर मेरी खूबियों पर ध्यान केंद्रित किया और मैन पाया कि मैं तो यूनिक हूँ वैसे ही आप भी अपनी कमियों को भूलो और खूबियों को पहचानो इस धरती पर प्रत्येक व्यक्ति विशिष्ट है कोई सामान्य नही हे बस हमें अपने अंदर की अच्छाई को खीजने बस की देर है ।स्लोगन पोस्टर एवम परस्पर संवाद कार्यक्रम में सहभागिता करने वाले सभी छात्र छात्राओं को राज्य आनंद संस्थान अध्यात्म विभाग द्वारा प्रमाणपत्र दिए गए। कार्यक्रम का समन्वय एवम संचालन श्रीमती मोनिका जैन द्वारा किया गया।


फोटो :-

         

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1
Document - 2
Document - 3


वीडियो:-

Video - 1