• ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

घर जाकर अब बच्चों पर नहीं उतारेंगे अपना गुस्सा

प्रेषक का नाम :- आनंदम सहयोगी एवं अतिरिक्त नोडल अधिकारी लखन लाल असाटी
स्‍थल :- Chhatarpur
07 Mar, 2019

 नौगांव में हुआ अल्पविराम प्रशिक्षण।   छतरपुर, 06 मार्च 19 ।

अब घर जाकर अपना गुस्सा बच्चों पर नहीं उतारेंगे। तीन दिवसीय अल्पविराम के पहले दिन फ्रीडम गिलास के बाद प्रतिभागियों ने अपने विचार साझा करते हुए यह बात कही। नौगांव स्थित क्षेत्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज प्रशिक्षण केंद्र पर जिले के 10 मंगल ग्रामों के सरपंच, सचिव, पंच, शिक्षक एवं पटवारियों के आवासीय प्रशिक्षण की शुरुआत ’आनंद की ओर’ सत्र से की गई।    

शांत समय लेने के बाद प्रतिभागियों ने अपने विचारों को लिखा और साझा भी किया, उन्होंने कहा कि उन्हें गुस्सा बहुत आता है, दूसरों के प्रति नजरिया भी ठीक नहीं है, इसे सुधारेंगे। एक ग्राम रोजगार सहायक ने कहा कि वह आज से अपनी सिगरेट की आदत छोड़ रहा है।          राज्य आनंद संस्थान की ओर से अशोकनगर से बलबीर सिंह बुंदेला, दमोह से रमेश कुमार व्यास, छतरपुर से लखनलाल असाटी, प्रदीप सेन, डॉ. आर.बी. पटेल, सुभाष अग्रवाल ने विभिन्न प्रयोगों और अपने जीवन के अनुभवों के माध्यम से अल्पविराम का प्रशिक्षण दिया।  मंगल ग्राम की अवधारणा पर भी विस्तार से चर्चा की गई कि व्यक्ति सुविधा की जगह अंतरात्मा की आवाज से निर्णय लेगा तो बहुत सारी चीजें ठीक होंगी और व्यक्ति के खुद के और समाज के जीवन के तनाव कम होंगे जिससे धीरे धीरे मंगल ग्राम की ओर हम बढ़ेंगे। सागर कमिश्नर आज और कल शामिल होंगे अल्पविराम में सागर कमिश्नर मनोहर दुबे 7 एवं 8 मार्च को नौगांव में मंगल ग्राम के प्रतिभागियों के लिए आयोजित अल्पविराम प्रशिक्षण कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। कमिश्नर 7 मार्च की सायंकाल और 8 मार्च की सुबह सभी प्रतिभागियों से प्रत्यक्षतः बात करेंगे और उनसे अल्पविराम के प्रभावों पर फीडबैक भी लेंगे। छतरपुर एसडीएम  स्वप्निल वानखेडे़ भी अल्पविराम कार्यक्रम में शामिल होंगे।    


फोटो :-

   

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1