छतरपुर जिले में आनंद उत्सव की तैयारियां पूरी कलेक्टर और कमिश्नर करेंगे समीक्षा

प्रेषक का नाम :- आनंदम सहयोगी एवं अतिरिक्त नोडल अधिकारी लखन लाल असाटी
स्‍थल :- Chhatarpur
09 Jan, 2019

छतरपुर ,जिले में आनंद उत्सव मकर संक्रांति सेकलेक्टर आज और कमिश्नर कल करेंगे समीक्षाछतरपुर। आध्यात्म विभाग में शामिल हो चुके आनंद विभाग का आनंद उत्सव समारोह छतरपुर जिले में भी 14 जनवरी से 28 जनवरी तक मनाया जाएगा। इस हेतु 186 ग्राम पंचायत मुख्यालयों एवं 15 नगरों में तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। राज्य आनंद संस्थान की बेवसाईट पर आनंद उत्सव की लोकेशन दर्ज की जा रही है। बुधवार 9 जनवरी को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की जाएगी। कलेक्टर भी जिले के सभी एसडीएम, जनपद सीईओ एवं मुख्य नगर पालिका अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। सागर कमिश्नर मनोहर दुबे 10 जनवरी को कलेक्टर कांफ्रेंस में आनंद उत्सव पर चर्चा करेंगे। नागरिकों में सहभागिता एवं उत्साह बढ़ाने के लिए समूह स्तर पर खेलकूद और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन आनंद उत्सव के अंतर्गत किया जाता है। आनंद उत्सव की मूल भावना प्रतिस्पर्धा न होकर सहभागिता है। स्थानीय तौर पर प्रचलित परंपरागत खेलकूद जैसे कबड्डी, खो-खो, बोरा रेस, रस्सा कसी, चेयर रेस, पिट्ठू/सितोलिया, चम्मच दौड़, नीबू दौड़, सांस्कृतिक कार्यक्रम जैसे लोक संगीत, नृत्य, गायन, भजन, कीर्तन, नाटक आदि आनंद उत्सव का हिस्सा होंगे। प्रथम चरण में यह 14 से 21 जनवरी तक ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्र में आयोजित किया जाएगा। दूसरे चरण में 22 से 24 जनवरी के मध्य विकासखण्ड मुख्यालयों पर आनंद उत्सव आयोजित होगा। 25 से 28 जनवरी के मध्य जिला स्तर पर इसका आयोजन किया जाएगा। आनंद उत्सव के आयोजन के लिए कलेक्टर रमेश भण्डारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति का गठन किया गया। आनंद विभाग के जिला नोडल अधिकारी एवं सीईओ जिला पंचायत हर्ष दीक्षित इस समिति के सदस्य/सचिव हैं। विकासखण्ड स्तरीय समिति में एसडीएम अध्यक्ष और जनपद सीईओ सदस्य/सचिव हैं। एसडीएम प्रत्येक आयोजन स्थल के लिए एक कार्यक्रम प्रभारी नियुक्त करेंगे। मास्टर ट्रेनर लखनलाल असाटी को आनंद उत्सव का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। 25 हजार रूपए तक इनामआनंद उत्सव आयोजन के पश्चात इन कार्यक्रमों के फोटो एवं वीडियो के लिए एक प्रतियोगिता भी आयोजित की गई है। यह प्रतियोगिता आयोजन की गतिविधियों पर आधारित है और इसमें कोई भी नागरिक भाग ले सकता है। प्रथम विजेता को 25 हजार रूपए, द्वितीय विजेता को 15 हजार रूपए तथा तृतीय विजेता को 10 हजार रूपए की पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी। यह पुरस्कार राशि फोटो तथा वीडियो दोनों के लिए पृथक-पृथक होगी। कोई भी नागरिक राज्य आनंद संस्थान की बेवसाईट पर 5 फरवरी 2019 तक खुद की जानकारी सहित आयोजन के फोटो एवं वीडियो अपलोड कर प्रतियोगिता में सम्मिलित हो सकते हैं।


फोटो :-

   

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1