100 शिक्षकों के साथ अल्पविराम कार्यक्रम संपन्न शिक्षकों ने बताया अब वह खुद और अपने स्कूल में क्या सुधार करने वाले है

प्रेषक का नाम :- आनंदम सहयोगी एवं अतिरिक्त नोडल अधिकारी लखन लाल असाटी
स्‍थल :- Chhatarpur
01 Oct, 2018

छतरपुर २९ सितंबर २०१८ डाइट नौगांव में शिक्षकों की दूसरे आवासीय प्रशिक्षण शिविर का समापन प्रतिभागियों की आंतरिक शेयरिंग के साथ संपन्न हुआ, हेडमास्टर श्री विनोद कुमार गुप्ता ने बताया कि अल्पविराम कार्यक्रम के प्रशिक्षण के दौरान रिलेशनशिप सेशन ने उन्हें बहुत अधिक प्रेरणा दी कई वर्षों से उनके चाचा के बीच संबंध खराब हैं, यहां तक कि भाई बहनों की शादी और बेटे की दुखद आकस्मिक मौत के बाद भी उन्होंने इस संबंध को सुधारने के बारे में गंभीरता से नहीं सोचा था पर अब वह अंदर तक हिल गए हैं और इस रिश्ते को आज ही ठीक करेंगे, चाचा से माफी मांगेंगे. श्रीमती किरण मिश्रा ने कहा कि कल प्रशिक्षण से लौटने के बाद उन्होंने अपने घर में पूरे परिवार के साथ बैठकर अल्पविराम पर विस्तार से चर्चा की कर रिश्तों को और अधिक सम्मानजनक और प्रेमपूर्ण बनाने का संकल्प लिया था उन्होंने आज सुबह सो कर उठने के बाद अल्पविराम लिया अपनी सासू मां के पैर छुए, देवरानी को आशीर्वाद दिया और उनके सभी बच्चों ने भी बड़ों के पैर छुए और एक दूसरे से प्यार बांटा, शिक्षक श्री ज्ञान प्रकाश पांडे ने कहा कि अल्पविराम से उन्हें बहुत ताकत मिली है अभी तक वह अपनी बेटी को कोचिंग जाने से रोक रहे थे पर वह भी अब अपने दो भाइयों की तरह कोचिंग जाएगी और वह भी अपना कैरियर बनाएगी, शिक्षक श्री राजा बाबू दुबे ने कहा कि उनके अंदर का अवसाद दूर हुआ है बचपन के बाद अब जाकर इस कार्यक्रम में शांत रहकर खुद से जुड़ने का अवसर मिला है जिसने उनके जीवन की दिशा बदल दी, इसी तरह की प्रतिक्रियाएं अन्य कई शिक्षकों ने कार्यक्रम के समापन पर व्यक्त की और कहा कि सुनने अधिक और बोलने कम की आदत बनी है, जिला शिक्षा केंद्र में जिला परियोजना समन्वयक श्री हरि शंकर त्रिपाठी ने कहा कि अब तक हुए प्रशिक्षण से यह प्रशिक्षण बिल्कुल अलग है, यह खुद को खुद से जोड़ता है प्रशिक्षण लेने के बाद शिक्षक अपने छात्रों से और अधिक प्रेम करेंगे उनकी जिज्ञासाओं का समाधान करेंगे और एक नए शिक्षा जगत का निर्माण होगा सागर कमिश्नर श्री मनोहर दुबे की पहल पर यह प्रशिक्षण सत्र आयोजित किए गए थे छतरपुर जिले से उन १०० से अधिक शिक्षकों को यहां आमंत्रित किया गया था, जिनके स्कूलों का राष्ट्रीय अचीवमेंट सर्वे में लर्निंग आउटकम निराशाजनक था इस प्रशिक्षण के बाद इन स्कूलों की अगली हृ्रस् रिपोर्ट पर सबकी नजर रहेगी. छतरपुर कलेक्टर श्री रमेश भंडारी, शिक्षा विभाग में सागर संभाग के संयुक्त संचालक श्री आर एस शुक्ला, सहायक संचालक श्री आशुतोष गोस्वामी, सहायक संचालक शिक्षा छतरपुर श्री जे एन चतुर्वेदी, एपीसी श्री आर एस भदौरिया, डाइट प्राचार्य श्री यू सी पटेरिया आदि ने भी प्रशिक्षण के दौरान अपने विचार साझा किए.छतरपुर जिले के आनंदम सहयोगी एवं मास्टर ट्रेनर लखनलाल असाटी सहित राज्य आनंद संस्थान से श्री हिमांशु भारत, इनीशिएटिव आफ चेंज पंचगनी महाराष्ट्र के प्रतिनिधि श्री दीपक तिरैया अहमदाबाद, श्री किशोर कुमार जमशेदपुर अल्पविराम के विभिन्न सत्रों को संचालित किया आनंदम सहयोगी श्री आर बी पटेल एवं श्री पवन कुमार बिरथरे ने भी सत्रों के संचालन में सहयोग किया


फोटो :-

   

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1