आनंद उत्‍सव 2020 फोटो एवं वीडियो प्रतियोगिता परिणाम        List of Eligible Candidates from previous recruitment advertisement        List of Non-Eligible Candidates from previous recruitment advertisement       • ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

 सिंगारपुरा के नाथ समुदाय के लोगों के बीच कपड़े, खिलौने व खाद्य सामग्री वितरित कर पाया आनंद 

प्रेषक का नाम :- डॉ सत्यप्रकाश शर्मा, आनंदम सहयोगी, ज़िला ग्वालियर
स्‍थल :- Gwalior
24 Sep, 2018

ग्वालियर के आनंदकों की टीम व विभिन्न आनंद क्लबों के सदस्य १६ सितम्बर रविवार को ग्वालियर से लगभग २० किलो मीटर दूर नाथ समुदाय (सपेरा) की बस्ती सिंगारपुरा साइकल रैली के माध्यम से एडीएम संदीप केरकेट्टा व आनंदम सहयोगी डॉ सत्यप्रकाश शर्मा के नेतृत्व में पहुँचे जहाँ पर अति ग़रीबी में जीवन यापन कर रहे इस समुदाय के बच्चों , महिलाओं व पुरुषों को कपड़े, खाद्य सामग्री में समोसा, मिठाई, बिस्कुट, फल, पढ़ाई लिखाई की सामग्री व खिलाने बाँटे गये । इतना सब पाकर सभी ख़ुशी से गद गद हो गये । 

 ग़ौरतलब है कि ग्वालियर में हर रविवार को सुबह ६ बजे से आनंदम परिकल्पना की अवधारणा के संदेश को लोगों के बीच फैलाने के लिए आनंदकों द्वारा एक साइकल रैली का आयोजन किया जाता है जो १९ फ़रवरी २०१७ से अविरल रूप से जारी है । 

 सिंगारपुरा जिसे नीम पर्वत नाम से भी जाना जाता है क्योंकि यहाँ की दो पहाड़ियों में से एक पर हज़ारों की संख्या में नीम के पेड़ लगाये गए हैं तथा पर शीशम के । यहाँ पर रहने वाले सपेरा समुदाय के लोग अपने पारम्परिक धंधे के बंद होने के कारण अति ग़रीबी में अपना जीवन यापन कर रहे हैं । आनंद क्लब टॉज़ फ़ोर टॉट्स के सदस्यों ने बच्चों खिलोनों वितरित किए यह क्लब अभियान लगभग ३,००० खिलोने ग़रीब बस्तियों बाँट चुका है । इसके पूर्व भी आनंदकों की टीम इस बस्ती में सामग्री बाँटने आ चुकी है । ज़िले में एक आनंदम वाहन का संचालन आनंद क्लब के माध्यम से किया जा रहा यही वाहन लोगों द्वारा दान किए कपड़ों को शहर से दूर बसे ग़रीब गाँवों में सामग्री बाँटने जाता है । 

 सिंगारपुरा में सामग्री वितरण के बाद एडीएम संदीप केरकेट्टा व आनंदम सहयोगी डॉ सत्यप्रकाश शर्मा ने उपस्थित समुदाय को सम्बोधित किया । श्री केरकेट्टा ने कहा कि प्रशासनिक स्तर पर जो भी मदद की ज़रूरत हो आपलोग निसंदेह मुझसे मिल सकते हैं तथा मैं आपकी हर स्तर पर मदद करने के लिये तैयार हूँ । 

डॉ शर्मा ने अपने सम्बोधन में उपस्थित जनसमुदाय को आनंद विभाग के वारे में बताया तथा कहा कि शिक्षा ही बो माध्यम है जो लोगों के जीवन स्तर में सुधार ला सकती है उन्होंने सभी से अव्हान किया कि आपलोग बच्चों पढ़ाने में कोई कसर ना छोड़ें तथा पढ़ाई के लिए जो भी ज़रूरत हो उसके लिए आप लोग कभी व्यक्तिगत रूप से मुझसे मदद ले सकते । 

 आनंदक हेमंत निगम, रामनरेश राजपूत, बाबिता सेंगर, अनेक सिंह राजपूत, सुरेंद्र कुशवाह नत्थु ख़ान, इसराइल मंज़ूरी, सुनील राजपूत, जितेंद्र राजपूत, अभिषेक शर्मा, पवन तिवारी, चंदू सर, कमलेश कुमार आदि इस अवसर पर उपस्थित थे । 


फोटो :-