• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर 2018 तक बढ़ा दी गई है |

आनंद प्रो‍जेक्‍ट एवं फैलोशिप

विकास का मापदंड आर्थिक उन्नति आधारित होने के साथ-साथ नागरिको के आनंद ज्ञात करने वाला भी होना चाहिए। इस अवधारणा को साकार करने के लिए भौतिक प्रगति के पैमाने से आगे बढ़कर राज्य सरकार द्वारा अगस्त २०१६ में आनंद विभाग की स्थापना की गई है। इस प्रकार का कदम बढ़ाने वाला मध्य प्रदेश देश का पहला राज्य है।

राज्य आनंद संस्थान (आरएएस) आनंद विभाग के उद्देश्यों को पूरा करने के लिए गठित एक पंजीकृत संस्था है। हमारा प्रमुख उद्देश हैं आनंद एवं खुशहाली के शेत्र में शोध एवं अनुसंधान हेतु अनुकूल वातावरण प्रदान करना एवं इन शोध और अध्यानो के माध्यम से ज्ञान संसाधन संचित कर नीति निर्माण करना. हमारा निरंतर प्रयास हैं कि शोघकार्ताओ को एक ऐसा मंच प्रदान किया जावे जिसके माध्यम से वह आनंद एवं खुशहाली के विषयो पर शोध एवं अध्ययन कर सके |

अपने उद्देश्यों को ध्यान में रखते हुए राज्य आनंद संस्थान अपने निम्नलिखित कार्यक्रमों के लिए बहुआयामी और अंतःविषय अनुसंधान हेतु आवेदन आमंत्रित कर रहा है: