शरीर में बचा था 1.8 हीमोग्लोबिन तब, रक्तदानियों ने किया “रक्तदान”

प्रेषक का नाम :- विष्णु कुमार सिंगौर मंडल संयोजक जनजातीय कार्य विभाग/आनंदम् सहयोगी मंड़ला
स्‍थल :- Mandla

शरीर में बचा था 1.8 हीमोग्लोबिन तब, रक्तदानियों ने किया “रक्तदान” सामान्य रुप से एक स्वस्थ मनुष्य के शरीर में कम से कम 12 ग्राम हीमोग्लोबिन होना आवश्यक है। लेकिन जब किसी मनुष्य के शरीर में हीमोग्लोबिन 1-8 ग्राम बचे तो उसकी शारीरिक परिस्थति का.अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है।। आज जिला चिकित्सालय मंड़ला में ऐसा ही रोगी आया था। ग्राम चाबी मुख्यालय से 50/-किमी. से आये मनोज कुमार साहू जिनके शरीर में 1-8 ग्राम हीमोग्लोबिन बचा था। ब्लड ग्रुप A+ खबर लगते ही तुरन्त गौ सेवा एवं रक्तदान संगठन मंड़ला के सदस्यों ने जिला चिकित्सालय मंड़ला पहुँचकर ब्लड डोनेट किया गया गौ सेवा एवं रक्तदान संगठन मंड़ला ने किया 4/ आसहाय लोगो को रक्तदान किया है। जिसमें संगठन सचिव: बैसाखू लाल नन्दा नें आज 15/ वीं बार किया ब्लड डोनेट, पवन उपाध्याय जी ने, राहुल भाई, एवं पप्पू भाई ने भी यज्ञ रूपी कार्य मैं सहयोग कर संगठन को मजबूती दी ब्लड डोनेट के समय आप रहे उपास्तिथ गौ पुत्र दिलीप चन्द्रौल, यूवा मोर्चा जिलाध्यक्ष : राहुल जैन, यूवा मोर्चा जिला सचिव : अभिनेष अग्रवाल, भाई मयंक तिवारी, ने रक्तदान कर आनंद की अनुभूति की है।


फोटो :-

      

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1
Document - 2