• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है

परिक्रमा में आने वाले भक्तों की सेवा में आता है “ आनंद”

प्रेषक का नाम :- विष्णु कुमार सिंगौर मंडल संयोजक जनजातीय कार्य विभाग/आनंदम् सहयोगी मंड़ला
स्‍थल :- Mandla
26 Mar, 2018

परिक्रमा में आने वाले भक्तों की सेवा में आता है “ आनंद” माँ नर्मदा मंड़ला जिले एवं नगर के किनारे से होकर प्रवाहित होने के कारण, परिक्रमा करने वाले आते रहते हैं नर्मदा परिक्रमा करने वालों में वृद्ध/,महिलायें भी सम्मलित होते हैं। नर्मदा परिक्रमा करने वाले पदयात्री म.प्र. के विभिन्न शहरों के अलावा देश के अन्य प्रांतों से श्रद्धालुओं का आगमन होता है। और नर्मदा नदी के किनारे ही रुकना होता है। रात्रि/दोपहर विश्राम के साथ-साथ ही भोजन तैयार भी किया जाता है। “अतिथि देवो भवः” की भावना से प्रेरित होकर यह काम किया जा रहा है। माँ रेवा प्रसादी प्रकल्प समीति महाराजपुर-मंड़ला के द्वारा रात्रि/दोपहर विश्राम के साथ-साथ ही भोजन तैयार करने के लिये आवश्यक सहयोग प्रदान किया जा रहा है। समीति में संजय श्रीवास्तव,राकेश दुबे,श्याम श्रीवास,ओम डेहरिया,गिरीश श्रीवास सम्मलित है।


फोटो :-