• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2018 |

“विक्षिप्त महिला को कपड़े पहनाकर, उसे घर पहुँचाया।

प्रेषक का नाम :- विष्णु कुमार सिंगौर मंडल संयोजक जनजातीय कार्य विभाग/आनंदम् सहयोगी मंड़ला
स्‍थल :- Mandla
21 Mar, 2018

“विक्षिप्त महिला को कपड़े पहनाकर, उसे घर पहुँचाया। मंड़ला शहर से दस किमी. स्थित ग्राम-आमानाला निवासी ताराबाई परते विक्षिप्त है। और ऐसी दशा में ही शहर आकर विभिन्न वार्डों में घूमती रही। शहर में घूमती हुई विक्षिप्त तारा बाई अनेक बार निर्वस्त्र हुई तो शोर्यदल की सदस्य.सुश्री सीता गोप ने उसे कपड़े पहनाये हैं। सुश्री सीता ने मानव अधिकार आयोग के सदस्य श्री डी.के.दुबे को साथ लेकर ,आधार कार्ड के माध्यम से महिला के घर का पता जाना । और जिला चिकित्सालय मंड़ला के सिविल सर्जन से मिलकर मानसिक रोगी चिकित्सालय ग्वालियर भेजने का मार्ग प्रशस्त किया। विक्षिप्त महिला तारा बाई को उसके घर आमानाला पहुँचाया गया। शोर्यदल सुश्री सीता गोप.के साथ श्री डी.के.दुबे ( मानव अधिकार आयोग -मंड़ला), अखिल भारतीय हिन्दू सेवा दल से श्री रेणु कछवाहा ( अध्यक्ष) ,सूनील मिश्रा, इन्द्रेश खरया नै भी सहयोग प्रदान किया है।


फोटो :-

   

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1