ग्राम बकसनपुर में गीता सत्संग संपन्न हुआ, सभी योगीभाईयों ने सद्कर्म करने का ग्रामवासियों से आह्वान कर सामाजिक बुराइयों को खत्म करने का संकल्प लिया।

प्रेषक का नाम :- बलवीरसिंह यादव "रांवसर" जिला मीडिया प्रभारी - पतंजलि योग समिति जिला अशोकनगर (म०प्र०) प्रेरक - राधेकृष्णा आनंद क्लब रांवसर - तहसील व् जिला अशोकनगर (म0 प्र0) मोबाइल- ९९८१४२२८१३, Tel No. 07543 221079
स्‍थल :- Ashoknagar
05 Feb, 2018

सर्वप्रथम दीप प्रजुल्लित कर गीता जी का पूजन किया गया तत्पश्चात वीरभानसिंह ने गीता जी के प्रथम अध्याय का मय श्लोक के वाचन किया। बलवीरसिंह रांवसर ने कहा की आज मानव समाज में नकारात्मकता इतनी जगह ले चुकी है की हमें समाज में अच्छे कार्य करने वालों के कार्य में भी आलोचना निकालने में रस आने लगा है - सो उन्होंने कहा मुश्किल नहीं है कुछ, दुनिया में, तू जरा हिम्मत तो कर, और ऐसी सोच वालों के लिए भगवान कृष्ण ने गीता के अध्याय ४ के श्लोक २२ में कहा है " जो बिना इच्छा के अपने आप प्राप्त हुए पदार्थ में सदा संतुष्ट रहता है, जिसमें ईर्ष्या का सर्वथा आभाव हो गया है , जो हर्ष - शोक आदि द्धन्द्धों से सर्वथा अतीत हो गया है - ऐसा सिद्धि और असिद्धी में सम रहने वाला कर्मयोगी कर्म करता हुआ भी उनसे नहीं बंधता। सभी योगीभाईयों ने सद्कर्म करने का ग्रामवासियों से आह्वान कर सामाजिक बुराइयों को खत्म करने का संकल्प लिया। व् आगामी १५ फरवरी को ग्राम खिरका में गीता सत्संग आयोजित किया जावेगा, सो खिरका निवासी रामबाबू यादव ने सभी से सत्संग में आने का निवेदन किया। ग्राम में नशा मुक्ति के साथ स्वच्छता के नारों के साथ रैली निकाली गयी - जिसमें पतंजलि योग समिति के सहयोगी वीरभानसिंह पिपरेसरा, रविंद्रसिंह डंगोराफूट, जयमंडलसिंह रिजोदा, योग प्रचारक हरिसिंह, कृपालसिंह गर्रोली, बलवीरसिंह रांवसर, प्रिंस यादव, हरिराम योगी रांवसर, चंद्रपालसिंह, जयेंद्रसिंह, रामसिंह खानपुर, रामबाबू मदनसिंह, देशराजसिंह, बलरामसिंह, जागरमसिंह खिरका, ग्राम बकसनपुर के अर्जुनसिंह, धनपाल, जजपाल, प्रदीप, विवेक जोशी, तथा समस्त ग्रामवासी उपस्थित रहे-


फोटो :-

      

वीडियो :-

Video - 1
Video - 2