• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2018 |

आचार्य आनंद क्लब ने शहर के मोची व अन्य गरीब लोगों को सम्मानित कर कंबल भेंट किए

प्रेषक का नाम :- डॉ सुधीर आचार्य एवं अंकित मिश्रा
स्‍थल :- Morena
05 Jan, 2018

आचार्य आनंद क्लब ने शहर के मोची व अन्य गरीब लोगों को सम्मानित कर कंबल भेंट किए |आचार्य आनंद क्लब अंबाह (मुरैना) रोजी-रोटी के लिए आसमान के नीचे बैठकर ग्राहक का इंतजार कर रहे मोचियों के चेहरे उस समय खुशी से खिल उठे जब समाजसेवियों ने न केवल उनका सम्मान किया बल्कि सर्दी से बचने के लिए कंबल भेंट किए। पं.रामदत्त मिश्रा की प्रेरणा से आचार्य आनंद क्लब के पदाधिकारियों ने मंगलवार को शहर में यह मुहिम चलाई। डा.सुधीर आचार्य के नेतृत्व में निकली टीम शहर के हर उस इलाके में पहुंची जहां सड़क पर बैठकर कुछ लोग परिवार का पेट पालने के लिए जूते सिलने का कार्य करते हैं। ऐसे लोगों के पास पहुंचकर टीम सदस्यों ने सबसे पहले उन्हें माला पहनाई उसके बाद मिठाई खिलाकर कंबल भेंट किया और नववर्ष की शुभकामना दी। समाजसेवियों ने जब उन्हें इतना सम्मान देकर गले लगाया तो उनकी आंखें छलक पडीं। समाजसेवियों की यह टीम मुरैना तिराहे से पोरसा चौराहा, डायवर्सन रोड, उसैदघाट रोड पर पहुंची। इस टीम में अंकित मिश्रा, शिवदत्त शर्मा, बालकृष्ण शर्मा, देव गुर्जर व मनोज पंडित शामिल रहे। सर्दी के मौसम में जारी रहेगी मुहिम आचार्य आनंद क्लब के पदाधिकारियों का कहना है कि कंबल वितरण की यह मुहिम एक दिवसीय नहीं है। बल्कि सर्दी में यह लगातार जारी रहेगी। ताकि नगर में रहने वाले गरीब तबके के लोगों को परेशान न होना पड़े। उन्होंने कहा कि कई ऐसे लोग हैं जो स्टेशन व अन्य सार्वजनिक स्थल पर अलाव के सहारे बैठकर रात गुजारते हैं। ऐसे लोगों के पास जाकर टीम के सदस्य उन्हें कंबल प्रदान करेंगे। नगर के आस-पास बनी गरीब बस्तियों में भी टीम पहुंचेगी। फुटपाथ पर बैठे गरीबों को भी दिए कंबल समाजसेवियों की टीम ने उन असहाय लोगों को भी कंबल भेंट किए जिनके पास सर्दी से बचाव का कोई इंतजाम नहीं है। सड़क से निकल रहे टीम के सदस्यों की नजर जब सड़क के फुटपाथ, डिवाइडर व अन्य स्थान पर बैठे ऐसे लोगों पर पड़ी जिनके पास गर्म कपड़े नहीं थे और सर्दी के कारण कांप रहे थे। इन लोगों के पास पहुंचकर सदस्यों ने उन्हें कंबल भेंट किए और मिठाई भी खिलाई। 50 से अधिक लोगों को कंबल व मिठाई खिलाकर सम्मान दिया गया।


फोटो :-

      

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1
Document - 2
Document - 3