आनंद उत्‍सव 2020 फोटो एवं वीडियो प्रतियोगिता परिणाम        List of Eligible Candidates from previous recruitment advertisement        List of Non-Eligible Candidates from previous recruitment advertisement       • ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

छतरपुर । रक्त हर वक्त परिवार आनंद क्लब के रक्तवीरों ने फिर बचाई 3 जिंदगी। आनंद क्लब का 26 जुलाई 2017 का काम।

प्रेषक का नाम :- लखन लाल असाटी आनंदम सहयोगी जिला छतरपुर
स्‍थल :- Chhatarpur
31 Jul, 2017

छतरपुर का रक्त हर वक्त परिवार आनंद क्लब का 26 जुलाई 2017 का काम। विकाश पंजवानी,अतिन शुक्ला,एवं शिवम् अग्रोहा रक्तदान कर बने असहायों के सहारा छतरपुर।जिला अस्पताल में बीती रात तीन मरीजों को रक्त की आवश्यकता थी,तीनो के परिजन या तो रक्तदान कर चुके थे या फिर जो ब्लड ग्रुप उनको चाहिए था वो ब्लड बैंक में उपलब्ध नहीं था इस समस्या को समझते हुए *रक्त हर वक्त परिवार* ने अपने तीन *रक्तवीरों* की मदद से देर रात सहायता उपलब्ध करायी। भाई *अतिन शुक्ला ब्लड ग्रुप A+* निवासी चौबे कॉलोनी ने पठापुर निवासी *करण कुशवाहा* के लिए रक्तदान किया। करन कुशवाहा का ब्लड ग्रुप A+,उम्र 16 वर्ष् है,ये कई दिनों से पीलिया एवं पथरी की शिकायत से जिला अस्पताल में भर्ती हैं इनका हीमोग्लोविन 4 ग्राम बचा था, जिस कारण इनको 4 यूनिट ब्लड की आवश्यकता थी जो अब पूरी की गई,अब करण स्वस्थ है। दूसरे रक्तवीर भाई *शिवम् अग्रोहा O-ve S/O दिनेश कुमार अग्रोहा* उम्र 21 वर्ष निवासी अग्रोहा भवन हटवारा मार्ग ने बिजाबर निवासी इंजीनियरिंग द्वितीय वर्ष के छात्र *अमीरुल पिता नसीर खान* के लिए रक्तदान किया। भाई शिवम् यूनिक ब्लड ग्रुप O-ve ब्लड ग्रुप धारक हैं जो रेयर होता है। यह शिवम् का प्रथम रक्तदान था। भाई अमीरुल पिछले 6 माह से पाइल्स के शिकार हैं। डॉ सुनील चौरसिया द्वारा पाइल्स का ऑपरेशन एवं ट्रीटमेंट के दौरान अमीरुल को कई बार ब्लड की जरूरत पड़ी और इनके शिक्षक माता-पिता ने स्वयं एवं अपने रिश्ते-नातेदारों से भी रक्तदान कराकर रक्त की कमी को पूरा किया। तीसरे रक्तवीर भाई *विकाश पंजवानी O+ve S/O श्री दिलीप कुमार पंजवानी* उम्र 28 वर्ष निवासी सिंधी कॉलोनी ने बहिन *श्रीमती संतोषी सेन पति श्री दसरथ सेन* ब्लड ग्रुप O+ve निवासी घूरा बमीठा के लिए रक्तदान किया। बहिन संतोषी को डिलीवरी के पश्चात लगातार हीमोग्लोविन की कमी हो रही थी जिसमे डॉ ने 4 यूनिट ब्लड की कमी बताई थी जिसमे बहिन संतोषी के छोटे भाई *राजकिशोर सेन O+ पिता श्री रामचंद्र सेन* ने एक यूनिट, एवं *रक्त हर वक्त परिवार* की कई समझाइशों के बाद संतोषी जी के पति *दसरथ सेन* ने एक यूनिट एवम् रक्तवीर *विकाश पंजवानी* ने एक यूनिट रक्तदान किया अब संतोषी जी की स्थिति पहले से बहुत बेहतर है एवं तीनों मरीजों के परिजन बहुत खुश हैं। करण के पिता दिहाड़ी मजदूर हैं उनके लिए ट्रांसपोर्ट मालिक *रविन्द्र सिंह* जी ने बहुत मदद की और बहुत मेहनत कर कहीं न कहीं से ब्लड उपलब्ध कराया भाई रविन्द्र जी मधुमेह के शिकार हैं लेकिन उन्होंने भरोसा दिलाया जब भी कभी किसी असहाय को B+ की आवश्यकता हो तो भैया *रविन्द्र* अपनी पत्नी द्वारा रक्तदान करा असहाय की अवश्य मदद करेंगे।। रक्तदान कर्णी भाई *रोहित,शंकु,कमल,पियूष,कुणाल,शुभम(गठेवरा), नौगांव के अभिषेक जी,झांसी के राजीव गोयल जी, एस के गुप्ता जी,हिमांशु बुधौलिया जी,जयंत भाई जी,शुभम बाधवानी जी,दतिया के पुनीत टीलवानी जी* छतरपुर में हरी अग्रवाल जी, भैया उमेश लालवानी जी,अमित जैन जी,अंकुर अग्रवाल जी का विशेष सहयोग। हृदय से आभारी लखन लाल असाटी आनंदम सहयोगी छतरपुर


फोटो :-

   

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1