अंधी/ मिरगी की बिमारी से पीड़ित महिला का बोझ उठाया।

प्रेषक का नाम :- विष्णु कुमार सिंगौर मंडल संयोजक अदिवासी विकास/आनंदम् सहयोगी मंड़ला
स्‍थल :- Mandla

अंधी/ मिरगी की बिमारी से पीड़ित महिला का बोझ उठाया। दिनाँक 14/11/2017 को बालाघाट जिले की संजू कौशले ग्राम-लामता नाम की लड़की जिला मुख्यालय मंड़ला आई हुई थी। संजू कौशले की एक आँख खराब होने के कारण मुँह में कपड़ा डालकर चलती है उपर से उसे फिट ( मिरगी ) की बीमारी थी। महिला अकेले ही बड़ा सा बैग लेकर अकेले ही आर्थिक सहायता के उद्शेय से जिला मुख्यालय मंड़ला आई हुई थी। कलेक्ट्रैट परिसर आते ही संजू कौशले को फिट का दौरा आने से सड़क पर तड़पने लगी। अकेले होने से संजू की मदद् करने वाला कोई साथ में नहीं था। लोगों के द्वारा आनंदम् दिव्याँग मोबाईल वैन सेवा क्लब के फोन न… 07642-254105 द्वारा सूचित कर सहायता के लियै वैन बुलायी गयी। वैन क्लब के सदस्यों श्री जीतेन्द्र मार्को, ड्राईवर मुकेश पन्द्रों के द्वारा महिला की सहायता करके उसे कलेक्ट्रैट से बस स्टैंड तक छोड़ा गया। केवल तीन माह में अब तक आनंदम् दिव्याँग मोबाईल वैन सेवा क्लब मंड़ला के द्वारा 389 दिव्याँग व्यक्तियों की सेवा करके आत्मसुख प्राप्त किया गया है।


फोटो :-