इंदौर युवाओ में जगा समाज सेवा का भाव परिजनों द्वारा ही बेघर किये गए बुजुर्गो को दे रहे सहारा

प्रेषक का नाम :- यश पराशर आनंदक एवम विजय मेवाड़ा आनंदम सहयोगी इंदौर
स्‍थल :- Indore

दिनांक : 8/11/2017 एक बार फिर पारिवारिक विवादों के कारण 73 वर्षीय बुज़ुर्ग आम्मॉ हुई निराश्रित बेसहारा ....... पोटलोद गॉव, चंद्रवतीगंज तह. सांवेर जिला इन्दौर से पारिवारिक मसले पर सुनवाई के लिए आई 73 वर्षीय रामीबाई पति बद्रीलाल मुकाति को पारिवारिक विवाद के कारण अपने ही बेटे ने घर से निकाल दिया है जिसके कारण अम्माँ दर दर भटकने लगी। अम्माँ का कहना है कि क्षेत्रीय थाने मे शिकायत की थी लेकिन कुछ नहीं हुआ और आज 8/11/17 को SP कार्यालय मे भी आवेदन देने गई थी। SP कार्यालय मे आम्मा से नार्मदीय सेवा फ़ाउन्डेशन के सदस्य राम चौधरी जी मिले और अम्माँ ने अपनी परेशानी बताई अम्माँ ने बताया कि अब उनके पास रहने के लिए कोई स्थान नही है और फिर अम्माँ इन्दौर रेलवे स्टेशन पर चली गई थी जहाँ से अम्माँ को ढूँढने मे 2 घन्टे का समय लग गया अम्माँ को ढूँढने के लिए GRF Railway Police का भी बहुत बहुत धन्यवाद I अभी आम्मा जी #नार्मदीय_सेवा_फ़ाउन्डेशन द्धारा संचालित श्रीराम निराश्रित आश्रम मे है।


फोटो :-

      

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1