आनंद उत्‍सव 2020 फोटो एवं वीडियो प्रतियोगिता परिणाम        List of Eligible Candidates from previous recruitment advertisement        List of Non-Eligible Candidates from previous recruitment advertisement       • ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

विक्षिप्त मिलें तो उन्‍हें प्‍यार दे कपडे दें 

प्रेषक का नाम :- विष्णु कुमार सिंगौर मंडल संयोजक आदिवासी विकास/आनंदम सहयोगी
स्‍थल :- Mandla
31 Oct, 2019

राज्य आनंद संस्थान भोपाल ( अध्यात्म. विभाग) मध्यप्रदेश शासन भोपाल के निर्देशन एवं जिला प्रशासन मंड़ला के मार्गदर्शन, संरक्षण मैं आनंदम् ( दुआओं का घर ) मंड़ला का संचालन होता है।   इस स्थल में लगभग सभी वर्ग/ समुदाय/पेशा से संबंधित लोगों का आवागमन होता रहता है संस्थान का प्रचार-प्रसार दूर-दूर तक होने से जरुरतमंद अपनी आवश्यक सामग्री लेने स्वतः ही आते हैं और लाभान्वित हो रहे हैं। लोगों को जरूरी सामग्री निःशुल्क प्राप्त करने में संस्थान उपयोगी और आवश्यक साबित हुआ है। वहीं समाज में गंभीर बीमारी से पीडित, लोक-लाज,वातावरण से बेखौफ भ्रमण करते “’’पागल”’ नंगे बदन घूमते मिल जाते हैं। जिन्हें नग्न या अर्धनग्न होने से कोई परवाह नहीं होती, लेकिन स्वस्थ व्यक्ति को अवश्य ही परवाह होती है।

 ऐसे व्यक्ति भी आनंदम् ( दुआओं का घर ) मंड़ला में आते या लाये जाते हैं ,जिन्हें उन्ही की आवश्‍यकता के अनुसार पहनने के कपड़े, सोने के लिए जगह, ठंड से बचने के साधन लिए इस संस्थान से मिल ही जाते रहे हैं। साथ ही साथ विक्षिप्त लोगों की चाय-पानी, भोजन का इंतजाम भी हो जाता है। इन विक्षिप्त व्यक्ति यों की देखभाल करने वाले नहीं होतें हैं और बिना कपडे़ घूमते रहते,सडक़ किनारे सोते हैं इसी ख्याल से आज जब इस तरह के दो व्यक्ति आये तो उन्हें सर्वे प्रथम गरम कपडे़ स्वैटर आदि दिये गये ,जिससे ये ठंड से बचे रहें।….यही इनकी शुभ दीपावली है।


फोटो :-