नशा छोड़ आनंद से जीवन जीने की कला से कराया बोध

स्‍थल :- Ujjain
28 Jun, 2018

नशा छोड़ आनंद से जीवन जीने की कला से कराया बोध आज अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस के अवसर पर गीताश्रीधर आनंद क्लब उज्जैन द्वारा व्यसनमुक्ति हेतु मजदूरों को छत्रीचौक उज्जैन स्थित सराय पर संकल्प दिलवाया गया। मजदूर भाईयो से बात की गई उन्हें बताया गया कि किस तरह से वे नशा छोड़ कर अपना जीवन आनंद से जी सकते है। क्लब अध्यक्ष रूपेश काबरा ने मजदूर भाईयों को संबोधित करते हुवे कहा कि भारत में गरीबी और अपराध प्रवृत्ति का एक बहुत बड़ा कारण नशे की लत है।अखंड भारतवर्ष को सत्यम् शिवम् सुंदरम् बनाने के लिए युवाओं को नशे के दुष्परिणाम से अवगत कराया गया।नशा दीमक की तरह शरीर के साथ साथ धन का भी क्षय करता है और किसी प्रकार की अनहोनी को व्यक्ति विशेष के साथ उसके परिवार को भी उस पीड़ा को सहन करना पड़ता है। ऐसी विपरीत परिस्थितियों का सामना किसी परिवार को ना करना पड़े इस हेतु व्यसनमुक्ति अत्यंत आवश्यक है।


फोटो :-