दिव्यांग सुदामा ने स्वयं के पैरों पर चार वर्ष बाद पार की दहलीज़

प्रेषक का नाम :- सचिन दुबे (अध्‍यक्ष- आशादीप आनन्‍द क्‍लब आशाग्राम बड़वानी)
स्‍थल :- Badwani
11 May, 2018

बड़वानी 09 मई/किसी भी व्यक्ति के जीवन में घटित होने वाली दुर्घटनाऐं आकस्मात ही होती हैं, ऐसी ही एक घटना ग्राम सिलावद के भेरूघाट में स्थापित भैरव मंदिर के पुजारी लकड़िया बाबा के बेटे सुदामा के साथ वर्ष 2015 में घटित हुई। बड़वानी जिले के ग्राम सिलावद निवासी सुदामा भी यू ंतो आम बच्चों के समान ही जन्मा था। किन्तु आज से 3 वर्षो पूर्व वह अपने हमउम्र के बच्चों के साथ कैरम खेलते हुए लोगो को देखने गया। जहां पर लोग कैरम खेल रहे थे, उस जगह बारिश का समय होने के कारण ऊपर गुजर रही बिजली की हाईटेंशन लाईन ने अचानक ही सुदामा को अपनी चपेट में ले लिया। जिसने उसके शरीर से दाहिना हाथ एवं बांया पैर छीन लिया। लकड़िया बाबा के तीन लड़कों में सबसे बड़े बेटे के साथ हुई घटना ने उसके पिता को मानो हताशा से भर दिया। ऐसे में आशा का केन्द्र आशाग्राम जो कि अंचल में अपनी सेवाओं के लिए वर्षों पुरानी पहचान रखता है, उदास परिवार की आशा का केन्द्र बना और विश्व विकलांगता दिवस पर लकड़िया बाबा की मुलाकात आशाग्राम ट्रस्ट बड़वानी द्वारा लगाए गए दिव्यांग उपयोगी उपकरणों की प्रदर्शनी के दौरान जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र के श्री मणीराम नायडू एवं समीप ही लगे जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के लीगल एड क्लिनिक पर श्री सचिन दुबे से हुई जिन्होने सुदामा को शासन की दिव्यांग हितैषी निःशुल्क कृत्रिम अंग/उपकरण प्रदाय योजना से जोड़कर उसे कृत्रिम अंग प्रदान करने में महती भूमिका अदा की। ट्रस्ट के सचिव डाॅ. एस.एन. यादव ने बताया कि आज सुदामा सामाजिक न्याय विभाग अंतर्गत संचालित जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र आशाग्राम ट्रस्ट द्वारा प्रदत्त उपकरण के सहयोग से स्वयं के पैरों पर चार वर्ष बाद दहलीज़ पार कर रहा है, यह हम सभी के साथ-साथ पीड़ित दिव्यांग के परिवार का भी उत्साहवर्द्धन करता है। आशादीप आनंद क्लब बड़वानी ने सुदामा की कृत्रिम अंग पहन कर प्रेक्टिस करने मंें अहम भूमिका अदा कर उसका उत्साह बढ़ाया तथा भविष्य में उसे रोजगार से जोड़ने के लिए भी उसे आश्वस्त किया। इस अवसर पर ट्रस्ट सचिव डाॅ. एस.एन. यादव, पीएलव्ही सचिन दुबे, आनंदक मनीष पाटीदार, आनंदक हिमांशु वाबले, डी.डी.आर.सी. के महेन्द्र वास्कले, मोहन कुरील आदि उपस्थित थे।


फोटो :-