• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2018 |

सहकारिता विभाग उज्जैन में प्रथम अल्पविराम कार्यशाला २० सितम्बर २०१७ को सम्पन

प्रेषक का नाम :- शैलेन्द्र सिंह डाबी, शैलेन्द्र व्यास (स्वामी मुश्कराके), राजेंद्र गुप्त एवं परमानंद डाबरे
स्‍थल :- Ujjain
03 Oct, 2017

उज्जैन आनंद विभाग द्वारा निर्धारित अल्पविराम कार्यशाला कैलेंडर के तहत दिनाक २० सितम्बर २०१७ बुधवार को सहकारिता विभाग उज्जैन में प्रथम अल्पविराम कार्यशाला का आयोजन अधिकारी/कर्मचारियों के लिए  की गई ! अल्पविराम इस कार्यशाला में राजेंद्र गुप्त, अधीक्षक वेद्शाला ने आनंद में रहने और लोगो को आनंदित करने में कौन-कौन से कारक होते है और वो किस तरह से आनंद में बाधा बनते है के बारे में अपने जीवन के अनुभवो को ग्लासपोट से विभिन्न समग्रियो को निकलकर बहुत प्रभावशाली तरीके के सामान्य भाषा में प्रदान की गई! शैलेन्द्र सिंह डाबी, प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रभारी, तारामंडल व जिला आनंद मास्टर ट्रेनर-उज्जैन ने आनंद विभाग की शासकीय/अशासकीय अधिकारियो/कर्मचारियों के लिए अल्पविराम गतिविधि का परिचय विस्तार से प्रदान किया, श्री डाबी जी ने सभी प्रतिभागियों से १० मिनिट्स का अल्पविराम अपनी खुद की एक अच्छी आदत जिससे हम हर जगह पहचाने जाते है और एक ऐसी अपनी आदत जो हम बदलना चाहते है पर बदल नहीं पाए और क्यों बदल नहीं पाए उसका समाधान के लिए अल्पविराम लिया ! १० मिनिट्स अल्पविराम के बाद आपने अनुभव शेयर करने के लिए चर्चा की ! इस तरह अल्पविराम की जानकारी अल्पविराम का प्रयोग कराकर प्रदान की गई और इसके सकारात्मक प्रभाव के लिए जीवन में इसे अपनाने की लिए प्रेरित किया! शैलेन्द्र व्यास (स्वामी मुश्कराके), प्राचार्य, शासकीय क. मा. वि. नलिया बाखल उज्जैन ने सभी प्रतिभागियों से आनंदित रहने के लिए स्वस्थ शरीर को व्यव्याम की निरंतरता बहुत ही सरल रूप में बताया साथ ही मनोरंजक और रोचक वार्तालाब से आनंदित किया ! कार्यशाला की शुरुआत उज्जैन आनंद विभाग के परमानंद डाबरे, आनंद विभाग, शाखा प्रभारी, जिला पंचायत उज्जैन ने सभी मास्टर ट्रेनर्स के परिचय और उज्जैन आनंद विभाग द्वारा निरंतर की जारही गतिविधियों की जानकारी के साथ प्रतिभागी कैसे आनंदक बन सकते है और आनंद विभाग में रजिस्ट्रेशन करा सकते है की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई ! जानकारी देते हुए किया, राजेंद्र गुप्त ने ग्लासपोट द्वारा मनुष्य के सामान्य व्वहार और उनकी मोवृत्तियो को विस्तार से बताया! सहकारिता विभाग उज्जैन अल्पविराम कार्यशाला में सभी अधिकारियो/कर्मचारियों ने भाग किया श्री अशोक बोहरा ने धन्यवाद और श्री संजीव शर्मा ने सभी का आभार प्रदान किया!


फोटो :-

         

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1
Document - 2