अल्पविराम- वास्तव में अधिकारी एवं कर्मचारियों की कार्य क्षमता में वृद्धि कर उन्हें आनंदित रहने को प्रेरित करता है

प्रेषक का नाम :- शैलेन्द्र सिंह डाबी, जिला आनंद सहयोगी (Shailendra Singh Dabi, Principal Scientist)
स्‍थल :- Ujjain
22 Aug, 2017

दिनांक १८ अगस्त २०१७ को अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय- नागदा जिला उज्जैन में आयोजित आनंद विभाग के कार्यक्रम में तहसील कार्यालय के अधिकारी एवं कर्मचारियों ने अल्पविराम कार्यक्रम के अंतर्गत महसूस किया की अल्पविराम वास्तव में अधिकारी एवं कर्मचारियों की कार्य क्षमता में वृद्धि कर उन्हें आनंदित रहने को प्रेरित करता है ! अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय- नागदा में आयोजित इस आनंद विभाग के कार्यक्रम में जिला आनंद सहयोगी श्री शैलेन्द्र सिंह डाबी ने मध्य प्रदेश शासन के आनंद विभाग की गतिविधियों को विस्तार के बताया ! स्वामी मुश्करके जी ने आनंद के बारे में बताते हुए कहा की आनंद किसी राशन की दूकान या परचून की दूकान पर नहीं मिलता इसे तो आपने चारो और आनंद और मस्ती में निहित कार्यकलापों से महसूस किया जाता सकता है ! मुश्कराहट चेहरे का सौंदर्य है, आनंद के आभाव में तन मन की मस्ती प्राप्त नहीं होती, तनाव की नाव में आनंद के साथ सवारी कर जीवन को खुशहाल बनाये ! जिला आनंदक श्री राजेंद्र गुप्त जी ने बहुत ही रोचक तरीके से गिलास पॉट का उपयोग करते हुए आपने खुद के अंदर मौजूद अपनी अच्छाई और बुराई को कैसे पहचने और उन्हें दूर कर आपने और दुसरो को आनंदित करे ! इस कार्यक्रम में कार्यालय में कैसे तनाव से मुक्त और आन्दित रह कर दैनिक कार्यालयीन कर करते रहे के बारे में श्री शैलेन्द्र सिंह डाबी जी ने अल्पविराम कराया साथ ही जीवन की बेलेंसशीट भी सभी प्रतिभागियों से बनवाई की हमने आपने जीवन में किन किन लोगो की मदत पाई और आज तक हम किन किन लोगो की मदत कर पाए है ! साथ ही उन्होंने ताली बजवाकर कार्यालयीन में आपसी सामंजस्य स्थापित करने से कैसे अच्छे और सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो के बारे में समान और लयबद्ध ताल बजवाकर बताया ! उपरोक्त कार्यक्रम का संचालन जिला आनंद विभाग के अधिकारी श्री परमानंद डाबरे जी ने किया ! कार्यक्रम के आभार प्रदर्शन श्री रजनीश श्रीवास्तव, एस. डी. एम. नागदा ने किया कार्यक्रम में नागदा तहसीलदार श्री रमेश सिसोदिया का विशेष सहयोग रहा ! इस कार्यक्रम में अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय- नागदा के समस्त अधिकारी कर्मचारी एवं पटवारी मिलाकर लगभग ४० प्रतिभागियों उपस्थित रहे !


फोटो :-

   

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1