अवसाद को कहें ना, उल्लास को कहे हां -हम दुनिया में अपनी प्रतिभा को निखारने और अपने हुनर से दुनिया को सवारने आए हैं..

प्रेषक का नाम :- मास्टर ट्रेनर डॉक्टर सुधीर आचार्य बालकृष्ण शर्मा
स्‍थल :- Morena
16 Sep, 2019

मुरैना; राज्य आनंद संस्थान द्वारा आत्महत्या निषेध जन जागरण सप्ताह के अंतर्गत आज मुरैना में कई आयोजन हुए। इस अवसर पर निराशा और अवसाद में गिरे युवाओं महिलाओं को संबोधित करते हुए राज आनंद संस्थान के मास्टर ट्रेनर काउंसलर और मोटीवेटर डॉक्टर सुधीर आचार्य ने कहा कि ईश्वर ने हमें बहुत सुंदर सुंदर गुण और प्रतिभाएं देकर इस दुनिया में भेजा है हम दुनिया में अपनी प्रतिभाओं को निखारने और अपने हुनर से दुनिया को खूबसूरत बनाने के लिए आए हैं। डॉ आचार्य ने कहा कि हम सोचें विचारें कि क्या यह सुंदर और अत्यंत महत्वपूर्ण जीवन हमें एक दूसरे से नफरत करने के लिए, गाली गलौज देने के लिए, ऊंच-नीच के लिए, भेदभाव के लिए, लड़ाई झगड़ों के लिए, नफरत के लिए मिला है क्या? सही बात तो यह है हमें यह जीवन एक दूसरे से जोड़ने- जुड़ने,हंसने- हंसाने, सुखी रहने और सुख बांटने के लिए मिला है. इसलिए इस जीवन को भरपूर जिया जाए हम तो कहते हैं कि अगर कभी असफलता हाथ लगे तो भी मेरे दोस्त "हिम्मत से हारना लेकिन कभी हिम्मत मत हारना" उक्त उद्गार आवासी ज्ञानोदय विद्यालय के सभागार में डॉ आचार्य ने व्यक्त किए। इस अवसर पर आनन्दक देव गुर्जर ने अपने जीवन के निराशा और अवसाद के पलों का जिक्र करते हुए उनसे मुक्ति की कहानी सुनाएं। मास्टर ट्रेनर बालकृष्ण शर्मा जी ने आर्ट ऑफ लिविंग कि कुछ क्रिया द्वारा तनाव मुक्ति के टिप्स बताएं। कृष्णवीर सिंह तोमर डाइट प्रभारी द्वारा अध्ययन अध्यापन को टेंशन फ्री बनाने के तरीके बताए गए।

पहला कार्यक्रम ग्रहणी महिलाओं के साथ पर चर्चा के रूप में हुआ तो मुख्य कार्यक्रम आवासीय ज्ञानोदय के हाई स्कूल और इंटर के विद्यार्थियों के साथ "अवसाद को कहो ना,उल्लास को कहें हां" विद्यालय परिसर में संपन्न हुआ। अन्य दो कार्यक्रम नगर के कोचिंग सेंटरों पर लोकेन्द्र डण्डोतिया जी के सहयोग से आयोजित हुए। इन आयोजनों में राज्य आनंद संस्थान के मास्टर ट्रेनर डॉक्टर सुधीर आचार्य बालकृष्ण शर्मा आनन्दक सहयोगी देव गुर्जर मनोज शर्मा डॉक्टर प्रगति और काउंसलर डॉ रामकुमार सिकरवार एवं कृष्णवीर सिंह तोमर अलग-अलग स्थानों पर उपस्थित रहे।बाक्स....काउंसलिंग सेवा शुरू...निराशा अवसाद टेंशन से गिरे हुए हर उम्र के आयु वर्ग के युवक-युवतियों स्त्री पुरुष के लिए आत्म हत्या निषेध काउंसलिंग सेवा प्रत्यक्ष एवं परोक्ष ऑनलाइन व्हाट्सएप वीडियो कॉलिंग के जरिए डॉ रामकुमार सिकरवार, डॉक्टर संजय शर्मा डॉक्टर सुधीर आचार्य के नंबरों पर उपलब्ध है की गई है। जिसका शुभारंभ आज डॉ रामकुमार सिकरवार जी की काउंसलिंग सेवाओं से हुआ।


फोटो :-

         

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1
Document - 2
Document - 3


वीडियो:-

Video - 1