• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2018 |

अल्पविराम

प्रेषक का नाम :- लखनलाल असाटी आनंदम सहयोगी छतरपुर
स्‍थल :- Chhatarpur
05 May, 2017

छतरपुर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में पुलिस उप महानिरीक्षक श्री केसी जैन एवं कलेक्टर श्री रमेश भण्डारी ने अल्पविराम के बाद अपने अंतर्मन की बातों को सबके साथ साझा किया। जिसे सुनकर सभी को गहरी प्रेरणा प्राप्त हुई। विश्व आनंद दिवस पर 20 मार्च 2017 को छतरपुर जिले में अल्पविराम कार्यक्रम का संचालन आनंदम सहयोगी लखनलाल असाटी ने किया। उन्होंने बताया कि कर्मचारियों में सकारात्मकता बढ़ाने के लिए मध्यप्रदेश शासन का आनंद विभाग यह आयोजन कर रहा है। सबसे पहले उपस्थित अधिकारियों ने अपने पदनाम की पर्ची बनाई और सर्वसम्मति से यह तय किया कि अल्पविराम के दौरान एक घंंटे तक उनका पद इस सभा कक्ष के बाहर होगा। तब आनंदम सहयोगी संतोष कुमार मिश्रा तथा कृपाशंकर अरजरिया ने सभी के पदों का प्रतिनिधित्व कर रहीं पर्चियों को सभाकक्ष के बाहर रख दिया। कलेक्टर श्री रमेश भण्डारी को अल्पविराम को लेकर इतने अधिक उत्साहित थे कि सभाकक्ष में वह अपने लिए आरक्षित विशेष कुर्सी पर न बैठकर सभी के साथ साधारण कुर्सी पर ही बैठे। उपस्थित अधिकारियों ने बड़ी ही संजीदगी से अपना आत्मपरिचय कराया। जिला उद्योग केन्द्र में पदस्थ सहायक प्रबंधक अरविन्द वोहरा ने जब अपने परिचय में बताया कि उनकी पत्नि गंभीर रूप से बीमार रहती हैं और वह उनकी सेवा को और अधिक समय देना चाहते हैं तो लखनलाल असाटी के आग्रह पर श्री वोहरा की पत्नि के स्वास्थ्य लाभ हेतु सभी ने एक मिनिट का अल्पविराम लेते हुए ईश्वर से प्रार्थना की। श्री वोहरा ने सभी को धन्यवाद देते हुए कहा कि सबकी शुभकामनाओं के बाद उनके ह्रदय में सभी के प्रति अपार आनंद उमड़ पड़ा है। डीआईजी श्री जैन ने बताया कि किस तरह उनके टोकने पर उनके पिताजी ने सुपाड़ी सेवन का परित्याग किया था। इसी तरह रास्ते में दुर्घटना का शिकार हुए एक दम्पत्ति की मदद कर उसकी जान बचाने पर आज वह दम्पत्ति उनके प्रति इतना अधिक आदर रखता है कि इस आनंद को वह कभी भुला नहीं सकते। कलेक्टर श्री रमेश भण्डारी ने बताया कि वह प्रतिदिन इस बात की सुसमीक्षा करते हैं कि वह आज कितने जरूरतमंदों का भला कर पाये। श्री भण्डारी ने कहा कि वह अपने पद की क्षमता के अनुरूप लोगों की तत्परता से मदद कर अधिक आनंदित और उत्साहित महसूस करते हैं। और यह उन्हें नई ऊर्जा और उत्साह प्रदान करता है। एसडीएम श्री डीपी द्विवेदी, प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, श्री जेएन चतुर्वेदी, पीएचईडी के ईई श्री महेन्द्र चौहान, आरईएस के ईई श्री अरूण दुबे, जिला आबकारी अधिकारी श्री माधौ सिंह, जिला कोषालय अधिकारी श्री राजेश गुप्ता, अधीक्षक भू अभिलेख श्री आदित्य सौनकिया, मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के जिला प्रबंधक श्री आशीष ताम्रकार, महाप्रबंध उद्योग श्री आदित्य चौबे, जिला आयुर्वेद अधिकारी श्री बीडी मिश्रा आदि ने अपने आत्म अनुभव शेयर किए। सभी ने 20 मिनिट का अल्पविराम लिया। कलेक्टर श्री भण्डारी ने सभी कार्यालयों में अल्पविराम की महत्ता बताते हुए कहा कि कलेक्टर कार्यालय के कर्मचारियों हेतु प्रत्येक सोमवार को अल्पविराम आयोजित होगा। एक घंटे के इस अल्पविराम कार्यक्रम के पहले प्रार्थना कि और अंत में सभी ने सस्वर संकल्प गीत गाया।


फोटो :-