• आनंद शिविर प्रशिक्षण तथा अल्पविराम कार्यक्रम के रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए क्लिक करें          • आनंद प्रोजेक्ट एवं फ़ेलोशिप के लिए आवेदन आमंत्रित है, आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2018 |

मन, मर्यादा ममत्व के साथ-साथ बेटियां बने शक्ति सम्पन्न

प्रेषक का नाम :- सचिन दुबे (अध्‍यक्ष- आशादीप आनन्‍द क्‍लब आशाग्राम बड़वानी)
स्‍थल :- Badwani
16 Nov, 2017

नारी को शक्ति स्वरूपा तथा संसार की धूरी के रूप में जाना जाता है। माँ रूपी ममत्व की छाया में देश के शुरवीर राष्ट्रनायक पल्लवित होते हैं किन्तु विडम्बना है कि ऐसे ही कुछ माँ के लाल अपने कुकृत्यों एवं दुराचारों से अपनी माँ के साथ-साथ समाज व मानवता को भी लज्जित कर राष्ट्र को कलंकित कर रहे हैं। उक्त बातें सम विकास सेवा संस्थान बड़वानी द्वारा आशा इंस्टीट्युट आॅफ नर्सिंग आशाग्राम ट्रस्ट बड़वानी में आयोजित ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, बेटियों को सशक्त बनाओ’ कार्यक्रम में संस्थान की मानद सदस्य एवं स्वास्थ्य परामर्शदाता श्रीमती नीता दुबे ने कही। उन्होने कहा कि नारी कमजोर नहीं है वह मन, मर्यादा और ममत्व के वशीभूत होकर अपनी अमोघ शक्ति का स्मरण भूल जाने के कारण शोषण का शिकार होती है, उन्हें सेल्फ डिफेंस का प्रशिक्षण देकर शक्तियों के पुनर्जागरण का अभियान ट्रस्ट एवं आशादीप आनन्द क्लब के सहयोग प्रारंभ किया गया है। आशाग्राम ट्रस्ट बड़वानी द्वारा संचालित आशा इंस्टीट्युट आॅफ नर्सिंग की 120 छात्राओं को आत्म रक्षा हेतु आनन्द क्लब ‘सेल्फ डिफेंस मार्शल आटर््स ऐकेडमी सेंधवा’ द्वारा निःशुल्क सेल्फ डिफेंस का प्रशिक्षण संचालक सेनसाई श्री सुमित चैधरी (ब्लेक बेल्ट, थ्री डेन) व कुमारी सपना सोनी के द्वारा प्रदान किया गया। ‘आत्मरक्षक बनने में विशेष बच्चों ने भी दिखाई रूचि’ सर्वशिक्षा अभियान अंतर्गत आशाग्राम ट्रस्ट बड़वानी द्वारा संचालित विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के छात्रावास से 30 बच्चों ने मार्शल आटर््स सीखा तथा विशेष रूचि के साथ प्रशिक्षकों के संकेत एवं निर्देशों को दोहराया। आशाग्राम ट्रस्ट बड़वानी के सचिव डाॅ. शिवनारायण यादव ने बताया कि वर्तमान दौर में बेटियों के साथ-साथ नन्हे-मुन्ने बच्चे तथा विशेष आवश्यकता वाले बच्चों की सुरक्षा भी चिन्ता का विषय है जिसे कि समाज के जागरूक लोगों के साथ-साथ माता-पिता को भी अपने हर बच्चे को संस्कृति ज्ञान के साथ-साथ सुरक्षा के लिए भी तैयार करना आज की महती आवश्यकता बन गई है। एकेडमी संचालक द्वारा ऐसी छात्राओं को प्रमाण-पत्र प्रदान कर सम्मानित किया जिन्होने आत्मरक्षा के लिए सिखाई गई स्टेप्स को जल्द ही सीख लिया। सेल्फ डिफेंस एकेडमी प्रशिक्षकों को आयोजकों एवं नर्सिंग छात्राओं ने बड़वानी शहर में भी मार्शल आटर््स प्रशिक्षण की शुरूवात करने की बात कही, जिसपर श्री चैधरी द्वारा अपनी सहमति प्रदान कर शिघ्र ही शुभारंभ की रजामंदी प्रदान की। सफल शिविर आयोजन पर मार्शल आर्ट्स प्रशिक्षकद्वय को आशाग्राम ट्रस्ट बड़वानी के पदाधिकारियों एवं आशादीप आनन्द क्लब बड़वानी द्वारा मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर आशा इंस्टीट्युट आॅफ नर्सिंग के डाॅ. दीपक शर्मा, अभय सावनेर, आनंदक मनीष पाटीदार, आनंदक नरेन्द्रसिंह सिसौदिया, श्रीमती मंजू जैकब, राहुल बौद्ध, राम प्रजापत, अर्चना खरत, जयश्री चैहान, वार्डन पन्नालाल पटेल, रमेश यादव आदि उपस्थित थे। जनसंपर्क अधिकारी आशाग्राम ट्रस्ट बड़वानी


फोटो :-

      

डाक्‍यूमेंट :-

Document - 1