• पंजीकृत चार्टर्ड एकाउटेंट्स / फर्म के एम्‍पेन्‍लमेंट के लिए आमं‍त्रण ( संशोधित ) • आनंद रिसर्च फेलोशिप कार्यक्रम हेतु आवेदन करें • ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

सजावटी सामग्री लेने का आनंद

प्रेषक का नाम :- विष्णु कुमार सिंगौर मंडल संयोजक आदिवासी विकास/आनंदम सहयोगी
स्‍थल :- Mandla
18 Sep, 2019

 आनंदम् ( दुआओं का घर ) मंड़ला में यदि घरेलू सजावटी सामान आता है तो उसे व्यवस्थित सजाकर रख दिया जाता है। इस तरह करने से ग्रमीणों को आवश्यक सामग्रियों के चुनाव में सुविधा होती है। आनंदम् ( दुआओं का घर) मंड़ला में आई सजावटी सामग्री अब “’वन ग्राम ‘’में पहुंचने लगी है।

वन ग्राम झालपानी की भूरी बाई मरावी अपने  पति के साथ बच्चीयों के कपड़े लैने दुआओं का घर आई ।…उसनेे जब दरवाजे पर लगाये जाने वाली झालर देखाा  तो “’’आनदित भाव से पति से बोला इनको रख लेते हैं भगवान के मंदिर में लगा देगें।

हमें भी खुशी हुई कि आनंदम् शहर में यहां की सामग्री “’’वनग्राम के घरों को सुशोभित करगी।…… यही वास्तविक आनंद है।………….