• ऑनलाइन कौर्स : ए लाइफ ऑफ़ हैप्पीनेस एंड फुलफिल्मेंट

जहाँ देने वाले ,और सामग्री लेने भी आनंदित होते हैं "'''आनंदम्"""

प्रेषक का नाम :- विष्णु कुमार सिंगौर मंडल संयोजक आदिवासी विकास /आनंदम् सहयोगी मंड़ला
स्‍थल :- Mandla
04 Sep, 2019

आनंदम् ( दुआओं का घर) मंड़ला, में जिले के दूरस्थ ग्रामों से आनेे वाले कामगारों को जरुरत का सामान मिलने से उनकी निश्चंतता बढ़ी है।वहीं दूसरी ओर इस घर में  जिले के विभिन्‍न हिस्‍सों से प्राय:  अस्पताल, थाना, जेल के कैदियों के मुलाकाती, कोर्ट,कचहरियों में आने वाले गरीबों को  उनकी जरूरत का अच्छी गुणवत्ता युक्त सामग्री मिलती ही है।  उनके परिवारों के लिये भी आवशयक सामग्री मिलने पर ग्रामीण खुशी से दुआएं देकर जाते हैंः।

दुआओं का घर पर आने वाले जरूरत मंद  समाज के  सभी वर्ग के होते हैंं, लेकिन जनजाति,,विशेष पिछड़ी जनजाति समुदाय के लाभान्वितों की संख्या अधिक होती है। तभी तो ( दुआओं का घर ) में देने वाले भी आनंद में और, सामग्री लेने वाले भी आनंद में।


फोटो :-